नानपारा व मिहींपुरवा के कटान प्रभावित क्षेत्रों का डीएम ने किया सघन निरीक्षण

सुभाष चन्द्र यादव

बहराइच। जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने अपर जिलाधिकारी राम सुरेश वर्मा के साथ तहसील नानपारा अन्तर्गत बाढ़ से प्रभावित होने वाले क्षेत्रों का सघन भ्रमण किया। शिवपुर क्षेत्र के भ्रमण के दौरान जिलाधिकारी ने ग्राम बौण्डी में सरयू नदी में उस पार से आ रही नाव के किनारे पर आ जाने पर मौजूद लोगों को सुझाव दिया कि नाव की क्षमता के अनुसार ही उस पर सवार हों, नाव के सफर के दौरान शान्ति बनाये रखें, अनावश्यक चहल कदमी न करें और नाविक के दिशा का अनुपालन अवश्य करें। उन्होंने मौके पर मौजूद उप जिलाधिकारी नानपारा डा. संतोष उपाध्याय व ग्राम प्रधान को निर्देश दिया कि नावों पर उनकी क्षमता का अंकन करा दिया जाय। ताकि किसी प्रकार की लापरवाही से कोई अप्रिय घटना न होने पाये। जिलाधिकारी ने सरयू नहर ड्रेनेज खण्ड के अधि.अभि. शोभित कुशवाहा को निर्देश दिया कि शिवपुर से बौण्डी तक क्षतिग्रस्त मार्ग की मरम्मत हेतु आपदा निधि से प्रस्ताव तैयार कराएं। गढ़ीघाट के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने मौके पर मौजूद अधि.अभि. लो.नि.वि. प्रान्तीय खण्ड आर.के. राम से पुल के पहुॅच मार्ग पर पूर्व में हुई कटान की बाबत जानकारी प्राप्त की। अधि.अभि. ने बताया कि सरयू नदी के बाये किनारे पर नदी की तेज धारा के कारण लगभग 20 से 22 मीटर पहुॅच मार्ग पर कटान हुआ था। श्री राम ने बताया कि पहुॅच मार्ग पर हुई कटान को बोल्डर व कैरेट से मरम्मत करा कर आवागमन बहाल कर दिया गया है। अधि.अभि. ने बताया कि कटान के स्थायी समाधान के लिए लगभग 2 करोड़ रूपये की कार्ययोजना तैयार कर परीक्षण हेतु मुख्यालय भेजी गयी है।   

               धनराशि की उपलब्धता होते ही कटान का स्थायी समाधान करा दिया जायेगा। इस अवसर पर पुलिस क्षेत्राधिकारी नानपारा अरूण चन्द्र, सहा.अभि. ए.के. गुप्ता व अवर अभि. मो. इलियास, सहायक अभियन्ता ड्रेनेज सरयू खण्ड वी.पी पाल व अन्य अधिकारी, ग्राम प्रधान बितनियां पंकज वर्मा, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि बौण्डी गुलाब वर्मा सहित अन्य लोग भी मौजूद रहे। इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने मिहींपुरवा तहसील के बाढ़ व कटान प्रभावित गिरगिट्टी व मझरा आदि का निरीक्षण करते हुए मौके पर ही उपजिलाधिकारी मिहींपुरवा मोतीपुर बाबूराम से इस क्षेत्र में जल भराव व कटान आदि से प्रभावित होने वाले क्षेत्र फल के बारे में जानकारी प्राप्त कर क्षति का आंकन कराये जाने के निर्देश दिये। श्री कुमार ने सभी सम्बन्धित अधिकारियों सक्रियता बनाये रखते हुए क्षेत्र में नियमित रूप से भ्रमणशील रहकर स्थिति का जायजा लेते रहने तथा तद्नुसार आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया। खण्ड विकास अधिकारी मिहींपुरवा चन्द्रशेखर को निर्देश दिया कि ग्राम गिरगिट्टी में बाढ़ से कट गये विद्यालय का प्रस्ताव तैयार करायें। ग्राम गिरगिट्टी व मझरा के निरीक्षण के दौरान भी सम्बन्धित ग्राम प्रधानों को गांव में संचालित नावों के प्रति पूरी सतर्कता बरतने तथा नाव की क्षमता के अनुसार ही लोगों को बैठाये जाने का निर्देश दिया गया।

Please follow and like us:
20

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy this blog? Please spread the word :)